मंगलवार, 11 अक्तूबर 2011

सभी सुधि पाठकों को मेरा नमस्कार......

कुछ  यूँ.......

वो जाते हुए तेरा धीरे से मुस्कुरा देना,
मुड़-मुड़ कर मुझे देखना और मेरा शर्मा जाना,
वो हर आते तेरे क़दमों पे मेरे दिल का मचल जाना,
तेरे आने पे थाम कर बैठना उन कमज़ोर पड़ती धडकनों को,
गुनगुनाता है अब हर लम्हा तेरे ही इश्क के एहसासों की नज़्म,
ज़िन्दगी खिलती है कुछ यूँ जैसे मनाती हो हर पल हम पर  तेरे ऐतबार का जश्न!!!


33 टिप्‍पणियां:

  1. kya baat hai ji...dil mein ehsaas jaga gayee aapki gazal...

    mere bhee nayee post pe aapka swaagat hai....

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुन्दर ...

    दीपावली की शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  3. सुन्दर..अति सुन्दर लगी आपकी प्रस्तुति.
    दीपावली की बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ.

    समय मिलने पर मेरे ब्लॉग पर आईयेगा.

    उत्तर देंहटाएं
  4. जी,कुछ यूँ भी..

    आपका मेरे ब्लॉग पर इंतजार है जी.

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत खूब.
    दिल से लिखा दिल छू गया.

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत सुन्दर प्रस्तुति| धन्यवाद|

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत बढ़िया लगा ! सुन्दर प्रस्तुती!

    उत्तर देंहटाएं
  8. आप मेरे ब्लॉग पर आयीं,इसके लिए बहुत बहुत आभार आपका.

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत ही सुंदर .....प्रभावित करती बेहतरीन पंक्तियाँ ....


    संजय भास्कर
    आदत....मुस्कुराने की
    पर आपका स्वागत है
    http://sanjaybhaskar.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  10. Aadarniya Hakirat ji,
    shayad aap mere blog par aayein kyunki aapki post par mere 3 baar post delete hue hain.....par iske liye hume kuch samajh nai aa raha ki kyun hum jo b likh rahe the vo post na ho kar kuch facebook adress post ho raha tha baar baar.muafi chahti hun jaise hi ye technical error thik kar pati hun ya thik ho jata hai shayad tab post ho paye mera comment.

    उत्तर देंहटाएं
  11. मोहब्बत में डूबी भीगी सी दिल की धडकनों ko तेज करती प्यारी सी नज़्म .....

    ये इश्क मुबारक आपको ......

    उत्तर देंहटाएं
  12. वो जाते हुए तेरा धीरे से मुस्कुरा देना,
    मुड़-मुड़ कर मुझे देखना और मेरा शर्मा जाना,
    Komal ehsaason se paripoorn rachana!

    उत्तर देंहटाएं
  13. आपके पोस्ट पर आकर अच्छा लगा । मेरे नए पोस्ट शिवपूजन सहाय पर आपका इंतजार रहेगा । धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  14. मेरे ब्लॉग पर फिर से आईयेगा जी.
    नई पोस्ट हनुमान लीला पर आपका स्वागत है.

    उत्तर देंहटाएं
  15. नववर्ष की आपको बहुत बहुत हार्दिक शुभकामनाएँ.
    आपके नई पोस्ट का इंतजार है.
    'हनुमान लीला भाग-२' भी आपको पुकार रही है.

    उत्तर देंहटाएं
  16. Aankhon mein intezaar ke badal baras gae,
    Hum dekhne ko aapka chehra taras Gae,
    Bin Tum Gum-sum Hone lage,
    Jane kis duniya mein Khone lage,
    ................


    उत्तर देंहटाएं